News All Around the World.

मेरी प्यारी बहना

मेरी प्यारी बहना

Spread the love

Share with:


मासूम सा चेहरा ,
इंसानियत कीमूरत है।
भोली और प्यारी सी,
बहुत ही ख़ूबसूरत है।।
तन उसका कोमल,
और मन उसका सुन्दर है।
आँखों में प्यार झलकता है,
दिल में उसके ईश्वर बसता है।।
कोई और नहीं वो प्यारी सी,
मेरी छोटी बहना है।
ख़ुशियों का वो सागर है,
प्यार का वो दरिया है।।
छोटा हो या बड़ा हो कोई,
हर इंसान के लिए-
उसके दिल में
प्यार ही प्यार बरसता है।
उसका हर शब्द
दुआ बनकर निकलता ।
कोई और नहीं वो प्यारी सी,
मेरी छोटी बहना है।
वो प्यारा सा फूल है
घर-फुलवारी का।
महकता उससे
घर का आँगन है।।
चेहरा उसका जब मैं देखूं,
मन प्रफुल्लित हो जाता है।
ईश्वर से वरदान के रूप में मिला मुझे अनमोल तोहफा है।
कोई और नहीं वो प्यारी सी,
मेरी छोटी बहना है।
कोई और नहीं वो प्यारी सी
मेरी छोटी बहना है..!
बहन अक्सर बड़ी होती है,
उम्र में भले ही छोटी हो।
लेकिन एक बड़ा सा एहसास लिए खड़ी होती है,
बहन अक्सर बड़ी होती है।
जो तुम रूठ जाओ तो मना लेगी, जो कोई उलझन हो तो
सुलझा देगी।
हर परेशानी को दूर करदे,
ऐसी वो जादू की छड़ी होती है
बहन अक्सर बड़ी होती है।
हर मुसीबत की वो साथी है,
हर दर्द की उसे दवा आती है।
मेरे लिए अपनी मुश्किल भी
भुला देगी,
मेरी ख़ुशी के लिए जी जान भी
लगा देगी।
वो एक चुलबुली सी
प्यारी परी होती है।
बहन अक्सर बड़ी होती है ।
मेरा हर दर्द उसका अपना है,
कोई पूरी करदे उसकी भी फ़रियाद, बस आँखों में चमक, दिल में उम्मीद लिए होठों को सिये खड़ी होती है।
बहन अक्सर बड़ी होती है।।
बहन अक्सर बड़ी होती है,
उम्र में भले ही छोटी हो।
लेकिन एक बड़ा सा एहसास लिए खड़ी होती है…!
डॉ दक्षा जोशी
अहमदाबाद
गुजरात ।